Jumme Ki Raat Song | Salman Khan, Jacqueline Fernandez | Mika Singh | Himesh Reshammiya - Mika Singh and Palak Muchhal Lyrics in hindi


Jumme Ki Raat Song | Salman Khan, Jacqueline Fernandez | Mika Singh | Himesh Reshammiya - Mika Singh and Palak Muchhal Lyrics

Jumme Ki Raat Song | Salman Khan, Jacqueline Fernandez | Mika Singh | Himesh Reshammiya - Mika Singh and Palak Muchhal Lyrics in hindi

Singer Mika Singh and Palak Muchhal
Music Himesh Reshammiya
Song Writer Kumaar and Shabbir Ahmed



Jumme Ki Raat Hindi Lyrics

अरे जुम्मे की रात है, अरे जुम्मे की रात है

अल्लाह बचाए मुझे तेरे वार से

जुम्मे की रात है, चुम्मे की बात है

अल्लाह बचाए मुझे तेरे वार से

जाने क्या होना है, जाने क्या खोना है

तेरी जवानी तो जादू है टोना है

जलवों में आंधी है, अंधी में तूफ़ान है

करदे ना मुझको तबाह

सारी की सारी है तू गोलाबारी

की मुश्क़िल है ख़ुद को बचाना

मार ही ना डाले, मेरी जान निकाले

उफ़ अल्लाह बचाए मुझे

हाय तेरे प्यार से

जुम्मे की रात है, चुम्मे की बात है

अल्लाह बचाए मुझे तेरे वार से



माना तुझ में गज़ब का नशा

तुझपे कोई भी होगा फ़िदा

लेकिन ना खेल दिल से मेरे

मैं तो दिल से भी हूँ सिरफिरा

इक मैं बात कहूँ, दो पल साथ रहूँ

फिर मैं अगले ही पल हूँ हवा

किया जो कुछ भी कहीं

मुझे कुछ याद नहीं

करूँ मैं क्या ये मुझे तू बता



सारी की सारी है तू गोलाबारी

की मुश्क़िल है ख़ुद को बचाना

मार ही ना डाले, मेरी जान निकाले

उफ़ अल्लाह बचाए मुझे, हाय तेरे प्यार से

जुम्मे की रात है, चुम्मे की बात है

अल्लाह बचाए मुझे तेरे वार से



हे जानू तेरी मैं बेमानियां

चाहे करले तू शैतानियाँ

ज़िद्द पे अड़ जाउंगी आज मैं

अब करुँगी मैं मनमानियां

नज़रें तुझपे मेरी, ले लूं मैं जान तेरी

पीछा ना छोडूं तेरा मैं यहां

प्यार में दूंगी सज़ा, मुझसे बचके तू दिखा

आज तू जाने वाला है कहाँ



सारी की सारी है तू गोलाबारी

की मुश्क़िल है ख़ुद को बचाना

मार ही ना डाले, मेरी जान निकाले

उफ़ अल्लाह बचाए मुझे, हाय तेरे प्यार से

जुम्मे की रात है, चुम्मे की बात है

अल्लाह बचाए मुझे तेरे वार से



jummai ki raat hindi lyrichs
are jumme kee raat hai, are jumme kee raat hai

allaah bachae mujhe tere vaar se

jumme kee raat hai, chumme kee baat hai

allaah bachae mujhe tere vaar se

jaane kya hona hai, jaane kya khona hai

teree javaanee to jaadoo hai tona hai

jalavon mein aandhee hai, andhee mein toofaan hai

karade na mujhako tabaah

saaree kee saaree hai too golaabaaree

kee mushqil hai khud ko bachaana

maar hee na daale, meree jaan nikaale

uf allaah bachae mujhe

haay tere pyaar se

jumme kee raat hai, chumme kee baat hai

allaah bachae mujhe tere vaar se



maana tujh mein gazab ka nasha

tujhape koee bhee hoga fida

lekin na khel dil se mere

main to dil se bhee hoon siraphira

ik main baat kahoon, do pal saath rahoon

phir main agale hee pal hoon hava

kiya jo kuchh bhee kaheen

mujhe kuchh yaad nahin

karoon main kya ye mujhe too bata



saaree kee saaree hai too golaabaaree

kee mushqil hai khud ko bachaana

maar hee na daale, meree jaan nikaale

uf allaah bachae mujhe, haay tere pyaar se

jumme kee raat hai, chumme kee baat hai

allaah bachae mujhe tere vaar se



he jaanoo teree main bemaaniyaan

chaahe karale too shaitaaniyaan

zidd pe ad jaungee aaj main

ab karungee main manamaaniyaan

nazaren tujhape meree, le loon main jaan teree

peechha na chhodoon tera main yahaan

pyaar mein doongee saza, mujhase bachake too dikha

aaj too jaane vaala hai kahaan



saaree kee saaree hai too golaabaaree

kee mushqil hai khud ko bachaana

maar hee na daale, meree jaan nikaale

uf allaah bachae mujhe, haay tere pyaar se

jumme kee raat hai, chumme kee baat hai

allaah bachae mujhe tere vaar se




Singer


Mika Singh and Palak Muchhal
MusicHimesh Reshammiya
Song WriterKumaar and Shabbir Ahmed







Post a Comment

0 Comments